Bashir badr ki mashhur shayari

Bashir badr ki mashhur shayari

दुश्मनी जम कर करो लेकिन ये गुंजाइश रहे
जब कभी हम दोस्त हो जाएं तो शर्मिन्दा न हों

Dushmanee jam kar karo lekin ye gunjaish rahe
Jab kabhee ham dost ho jaen to sharminda na hon

 

जिस दिन से … Read More

Rahat Indori 2 line shayari

Rahat Indori 2 line shayari

मैं ने अपनी ख़ुश्क आँखों से लहू छलका दिया
इक समुंदर कह रहा था मुझ को पानी चाहिए

main ne apanee khushk aankhon se lahoo chhalaka diya
ik samundar kah raha tha mujh ko paanee chaahie

 

शाख़ों से टूट … Read More

faiz-ki-mashhur-shayari

Faiz Ki Mashhur shayari

दिल नाउम्मीद तो नहीं, नाकाम ही तो है
लंबी है गम की शाम, मगर शाम ही तो है।

Dil naummeed to nahin, naakaam hee to hai
Lambee hai gam kee shaam, magar shaam hee to hai

 

आदमियों से भरी … Read More

Mir Taqi Mir ki Mashhur shayari

Mir Taqi Mir ki Mashhur shayari

 

राह-ए-दूर-ए-इश्क़ में रोता है क्या

आगे आगे देखिए होता है क्या

Raah-e-door-e-ishq mein rota hai kya

Aage aage dekhie hota hai kya

 

उल्टी हो गईं सब तदबीरें कुछ न दवा ने काम किया

देखा इस बीमारी-ए-दिल ने आख़िर … Read More

Rahat indori ki mashhur shayari

Rahat indori ki mashhur shayari

बुलाती है मगर जाने का नइ ये दुनिया है इधर जाने का नइ

मेरे बेटे किसी से इश्क़ कर  मगर हद से गुजर जाने का नइ

bulaatee hai magar jaane ka nai ye duniya hai idhar jaane ka nai

mere … Read More