Dard shayari

Dard shayari

 

दर्द की दस्ता क्या बयां करे

नसनस में लहू बन दौड़ रहा हे

Dard ki dasta kya bayan kare

Nas nas me lahu ban doud raha he

जख्म दिए किसी ने किसी ने हमे छला

यकीनन यु ही नहीं कोई हम से मिला

Jakhm diye kisi ne kisi ne hame chala

Yakinan yuhi mahi koi ham se mila

Dard shayari

 

देखते ही देखते समा गया दिल में

तेरी नजरो का वार बहुत कातिलाना था

Dekhte hi dekhte sama gaya dil me

Teri nazro ka waar bhut katilana tha

तुफान उठा हे जीवन में दिल की बस्ती उजाड़ राखी हे

हमने उन से उसने हम से मोहब्बत कर रखी हे

Tufaan utha he jeevan medil ki basti ujaad rakhi he

Ham ne un se usne ham se mohabbat kar rakhi he

Spread the love

Leave a comment